Search Engine - कैसे काम करता है- How Search Engine Works? - IconicTech - Unique Tips & Tricks

Latest

Saturday, June 8, 2019

Search Engine - कैसे काम करता है- How Search Engine Works?

हम Search Engine के Top पर आने के लिए SEO करते हैं | पर आप क्या जानते है कि Search Engine काम कैसे करता हैं?

Google Yahoo Bing...Etc
ये सभी बहुत ही Popular Search Engine हैं...

SEARCH ENGINE की Populartity का अंदाजा आप ये जानकार लगा लो की जब भी कोई चीज़ हम
या जानकारी पता करते है तो सबसे पहले Google की तरफ भागते है

Search-Engine-kya-hote-hai


Search Engines Defined In Hindi 


सर्च इंजन क्या होते है?


सर्च इंजन Actual  में Software Program होते हैं जिनको हम Spiders , Bots या फिर Crawlers भी कहते हैं 

दुनिया भर में जितने भी websites हैं उनकी जानकारी को अपने Database में Save करते हैं और जब कोई इंसान किसी भी सर्च इंजन अपर कोई भी चीज़ search की जाती है तो उससे Related Information हम तक पहुंचने का काम करते हैं ये Search Engines 

Search Engine कैसे काम करता हैं?

आशा करता हूँ कि आपको समझ आगया होगा कि सर्च इंजन क्या होते है तो अब समझते है की ये  Search Engine कैसे काम करते है 

सर्च इंजन बहुत सारी जानकारी अपने पास Save रखता हैं और उसको सही से Organize करते है और Users की Demand पर हमको वो Results Show करवाए जाते है जो हमारे लिए बहुत ही Useful होते हैं 

आपने देखा होगा की जैसे ही हम Google के Search बॉक्स में कुछ भी लिखते हैं तो कुछ ही Second में हमारे पास उस चीज़ से Related साड़ी जानकरी Show हो जाती हैं 

आज के समय में Google सबसे Popular Engine बन चूका हैं जो चीज़े हमको किताबों में नहीं मिलती वो हमको Google पर मिल जाती हैं 

मुझे याद है की जब मैं School में था और मुझे Dowry System के बारे मैं जानकरी Collect करनी थी तो मैं सबसे पहले Library गया और वहां से उससे रिलेटेड Books ली और उसको अच्छे तरीके से Arrange किया 

उसी तरह Online भी सारी जानकारी होती हैं 

Search Engine ऐसे ही सारी जानकारी को Collect करते हैं और उसको Organize करके Rank Decide करते है और यूजर के मांगे जाने पर उसको उसी हिसाब से दिखाते हैं 


Search Engine 3 Steps से काम करते हैं -


सबसे पहले सर्च इंजन Crawling करते हैं 

सर्च इंजन के Bots एक Webpage पर जाते है और उस पर दिए हुए Link को Follow करते करते हुए फिर दूसरे, फिर तीसरे आदि पर....


इस तरह ऑनलाइन सभी Webpages की जानकारी को इकठा कर लेते  हैं 
जब भी आप कोई नयी वेबसाइट बनाये तो उसको Search Engine पर ज़रूर Submit करदे जो आपको SEO के काफी मदद करेगा और अपनी Website का Sitemap भी Search Engines को देना चाहिए ताकि Crawlers हमारी Website की Information सही से Collect कर पाए और अपने Database में Add कर ले आके ।

दूसरा Step हैं- Indexing 


जानकारी को इकट्ठा करने के बाद इस जानकारी को अपने database में add कर लेते हैं 

सभी जानकारी को Analyse किया जाता हैं और Ranking दी जाती हैं यानि हजारो Webpages में से किसको किस Position पर Show करना हैं Serp ( Search Engine Result Page ) में । 
इसी पूरी Process को Indexing कहते हैं 

Search Engine की Ranking 


हर सर्च इंजन के अपने Rules जिनको हम Algorithms Hote हैं जिनके आधार पर Ranking Decide करी जाती हैं 

अगर हम Google की बात करें तो लगभग 200 Factors हैं जिनके Bases पर सभी Websites को Analyse करते है और Rank देते हैं 

For Example 

अगर मैं गूगल पर Seo क्या है ? तो वेबसाइट Top पर आयी हैं उनके Tiltle , Description और Url में Seo क्या है लिखा हुआ होगा 

Ranking के लिए से सारी चीज़े बहुत ज्यादा Useful हैं 

इसके आलावा बहुत सारी चीज़े है जो वेबसाइट को top पे पहुँचाती हैं 


जैसे - हमारी वेबसाइट कितनी पुरानी हैं ?
उसकी Quality कैसी हैं 
उसके कितने Backlinks हैं 

इन सभी बातो से Google को एक Idea मिलता है कि आपकी वेबसाइट को कहाँ पे Show करवाये 

तीसरा और Last Steps- Retrival


इस Step में User की Query को समझा जाता है और उससे Related सभी Results Display किये जाते हैं ।

जब भी हम Google के Search Box में कुछ Type करते हैं तो कुछ Second के अंदर उससे Related जितनी भी जानकारी Online Available हैं , वह हमे अपनी सर्च Results में दिखा देता हैं 

Conclusion 

Google, Bing, Yahoo आदि यह सभी सर्च इंजन वास्तव में Software Programm हैं 
जो कुछ भी सर्च करने पर User को उससे Related Online Available सभी जानकारी बहुत जल्दी दे देते हैं 

आशा करता  हूँ  Article पसंद आया होगा अगर हाँ तो Comment करके ज़रूर बताये 












No comments:

Post a Comment